चंडीगढ़ ट्राई सिटी पंजाब राजनीति हरियाणा होम

हरियाणा चुनाव : 40 से ज्यादा सीटों पर कांग्रेस  दे रही है भाजपा को कड़ी टक्कर

चुनाव के दंगल से गुजर रहे हरियाणा में भाजपा के मुकाबले कांग्रेस ने इस बार 90 विधानसभा सीटों के लिए अपने  84 प्रत्याशी मैदान में उतारे हैं। जिस पार्टी को एक कमजोर विपक्ष और विभाजित कहा जाता था, उसके बारे में द-ट्रिब्यून की ग्राउंड रिपोर्ट कुछ और ही कहती है। इसके अनुसार, हरियाणा में आज कांग्रेस के जीत की एक सशक्त दावेदार के रूप में उभरी है। रिपोर्ट ने चुनावी माहौल को दिलचस्प बना दिया है। इसके अनुसार कांग्रेस 40 से ज्यादा सीटों पर भाजपा को कड़ी टक्कर दे रही है। इसका कारण, कांग्रेस के संकल्प पत्र में निहित हर समुदाय के लोगों के लिए विभिन्न योजनाओं को माना जा रहा है। कांग्रेस के संकल्प पत्र में 5100 रु बुढ़ापा पेंशन, बीपीएल महिलाओं को हर महीने 2000 रु चूल्हा खर्च, विद्यार्थियों को सालाना वजीफा, बेरोजगारी भत्ता, अनुसूचित जाति और पिछड़ा वर्ग के लोगों को 100-100 वर्ग गज के फ्री प्लॉट्स देने के वादों ने लोगों को ज्यादा आकर्षित किया है।
आपको बता दें कि कांग्रेस ने इस संकल्प पत्र की जानकारी हरियाणा के कोने कोने तक पहुँचाने के लिए एक निशुल्क नंबर 9355333011 की सेवा भी जारी की थी। चुनावी विश्लेषकों ने मुताबिक कांग्रेस के संकल्प पत्र ने हरियाणा की जनता को ज्यादा आकर्षित किया है क्योंकि 2014 के वादे पूरे करने में असफल रही भाजपा ने अपने 2019 के घोषणा पत्र में कोई ठोस वादे नहीं कर पाई। मीडिया के इस्तेमाल में माहिर माने जाने वाली भाजपा ने इस स्थिति का पूर्वानुमान नहीं लगाया था जिसके चलते उनकी गतिविधियां लोगों को रिझाने में असफल रही हैं। वहीं कांग्रेस ने मीडिया के अलग-अलग माध्यमों पर अपने आक्रामक अभियानों से हर मोर्चे पर बढ़त बनाई हुई है। हरियाणा में 21 अक्टूबर को मतदान होना है और मतों की गिनती 24 अक्टूबर को होगी।